मनुष्य ज्ञानी और अच्छा ज्यादा कक्षा पड़कर सर्टिफिकेट प्राप्त करने से नही होता।

मनुष्य ज्ञानी और अच्छा ज्यादा कक्षा पड़कर सर्टिफिकेट प्राप्त करने से नही होता। मनुष्य अच्छा और ज्ञानी हृदय का साफ होने से होता है। सत भावना से होता है। मनुष्य…

Continue Reading
×